राज्य

‘ऋषि-मुनि भी गौमांस खाते थे’ 

पटना: राजद प्रमुख लालू प्रसाद के ‘हिंदू भी बीफ खाते हैं’ के बयान को सही ठहराने की कोशिश करते हुए पार्टी के नेता रघुवंश प्रसाद ने यह कहकर एक नए विवाद को जन्म दे दिया कि रिषि मुनि भी गौमांस खाते थे ।

राजद उम्मीदवार राम विचार राय द्वारा कल नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद मुजफ्फरपुर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए रघुवंश ने कहा ,‘‘ वेदों में लिखा है कि ऋषि-मुनि भी गौमांस खाया करते थे… इस पर अभी :जब चुनाव हो रहे हैं : चर्चा करने की आवश्यक्ता नहीं है।’’ राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश ने कहा कि यह वैचारिक बहस का विषय है और चुनाव के समय इस पर बहस की आवश्यक्ता नहीं है । इसपर बाद में भी बहस की जा सकती है।

रघुवंश का यह बयान ऐसे समय में आया है जब गौमांस मुद्दे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राजद प्रमुख लालू प्रसाद के बीच वाकयुद्ध छिड़ा हुआ है ।

गत बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री ने बिहार में मुंगेर, बेगूसराय और समस्तीपुर में आयोजित रैलियों के दौरान लालू प्रसाद की उस सफाई पर कि उन्होंने शैतान के प्रभाव में यह गौमांस वाला बयान दिया था, उनपर यदुवंशियों का अपमान करने का आरोप लगाया था ।

प्रधानमंत्री ने कहा था ‘‘मुझे हैरानी है कि शैतान को प्रवेश करने के लिए उनका : लालू : ही शरीर मिला? मैं जानना चाहता हूं कि शैतान को उनका : लालू का : पता कैसे मिला? शैतान को पूरे बिहार, भारत और पूरी दुनिया में उन्हें छोड़कर किसी और का शरीर नहीं मिला। और उन्होंने भी शैतान का ऐसे स्वागत किया जैसे कोई अपने रिश्तेदारों का करता है।’’

प्रधानमंत्री की उक्त टिप्पणी पर लालू ने कल कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था ‘अगर मैं ‘शैतान’ हूं तो क्या वे ‘ब्रह्म पिशाच’ हैं।

उल्लेखनीय है कि कल राजद ने नरेंद्र मोदी के खिलाफ निर्वाचन आयोग में शिकायत कर चुनाव आयोग से बिहार में प्रधानमंत्री की और रैलियों के आयोजन की अनुमति नहीं दिए जाने का आग्रह किया था।

इस बीच रघुवंश के बयान पर केंद्रीय राज्य मंत्री गिरीराज सिंह ने ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि पहले लालू फिर रघुवंश ने हिंदुओं के गोमांस खाने की बात कही। उस पर नीतीश की चुप्पी से सिद्ध होता है कि वे हिंदुओं को जबरन गोमांस खिलाएंगे ।

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button