राज्य

कश्मीर: सीमा पर गोलीबारी में 2 वर्ष में 38 मौतें

श्रीनगर: जम्मू एवं कश्मीर में नियंत्रण रेखा और अंतर्राष्ट्रीय सीमा रेखा पर पिछले दो वर्षो के दौरान हुई गोलीबारी में 10 सुरक्षाकर्मियों सहित 38 लोगों को जान गंवानी पड़ी है।

सरकार के सोमवार को विधानसभा में एक लिखित बयान में कहा कि 2014 में और 2015 में 22 सितम्बर तक सीमा पर गोलीबारी में 28 नागरिकों और 10 सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई। 

राज्य सरकार, विपक्षी नेशनल कॉन्फ्रेंस के विधायक और पूर्व मंत्री मियां अल्ताफ अहमद द्वारा पूछे गए एक सवाल का जवाब दे रही थी। 

सरकारी बयान के मुताबिक, “वर्ष 2014 में 14 नागरिकों की मौत हुई और मौजूदा वर्ष में 22 सितम्बर तक सीमा पर गोलीबारी में इतने ही लोगों की मौत हो चुकी है। इन घटनाओं में 2014 में चार और 2015 में छह सुरक्षाकर्मियों की मौत हुई।”

बयान के मुताबिक, 2014 और 2015 में 162 नागरिक और 30 सुरक्षाकर्मी घायल हुए। 

बयान में कहा गया है, “2014 में आतंकवाद संबंधी घटनाओं में 35 नागरिकों और 47 सुरक्षाकर्मियों की मौत हुई। 2015 में ऐसी ही घटनाओं में 20 नागरिकों और 29 सुरक्षाकर्मियों की मौत हुई। ऐसी घटनाओं में 278 लोग घायल हुए, जिनमें 155 सुरक्षाकर्मी और 123 नागरिक शामिल हैं।”

मृतकों या घायलों के निकट संबंधियों को राहत राशि के तौर पर 53 लाख रूपये से अधिक दिए गए।

कश्मीर घाटी और जम्मू क्षेत्र के संभागीय आयुक्तों के अनुसार, जम्मू क्षेत्र में 34.43 लाख रुपये और कश्मीर घाटी में 19.32 लाख रुपये बांटे गए। 

सरकार के मुताबिक, “शेष मामले विभिन्न स्तरों पर प्रक्रिया में हैं।”

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button