राज्य

बिहार चुनाव: नीतीश कुमार ने महागठबंधन के उम्मीदवारों की सूची जारी की

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू के नेता नीतीश कुमार ने आज अगले महीने शुरू हो रहे राज्य विधानसभा चुनाव के लिए महागठबंधन के 242 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की ।

इस मौके पर उन्होंने भाजपा पर जम कर हमला बोला और आरोप लगाया कि वह ‘‘आरक्षण विरोधी’’ है और उसे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ :आरएसएस: के विचार का अनुसरण करना ही है ,जो कि उसके लिए ‘‘सुप्रीम कोर्ट के समान’’ है ।

कुमार ने महागठबंधन में शामिल जदयू, राजद और कांग्रेस के उम्मीदवारों की संयुक्त सूची जारी करते हुए कहा कि यह समाज के सभी वर्गों का प्रतिनिधित्व करती है जिसमें 16 फीसदी सामान्य श्रेणी के, 55 फीसदी पिछड़ा वर्ग से, 15 फीसदी अनुसूचित जाति..जनजाति से और 14 फीसदी अल्पसंख्यक समुदाय से हैं ।

कुमार ने दावा किया कि उनका गठबंधन पूरी तरह से एकजुट है और राजग की तरह इसमें कोई मतभेद नहीं है ।

उन्होंने कहा कि बिहार की जनता भाजपा को मुहंतोड़ जवाब देगी क्योंकि जनता उसकी ‘‘विभाजनकारी’’ राजनीति को देख रही है ।

भाजपा और संघ पर कड़ा निशाना साधते हुए जदयू नेता ने उनपर आरक्षण के खिलाफ होने का आरोप लगाया और कहा कि संघ आरक्षण की समीक्षा के लिए एक संविधानेतर इकाई गठित करने की मांग कर रहा है ।राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भाजपा का वैचारिक प्रेरणास्रोत है ।

उन्होंने आरएसएस के मुखपत्र ‘‘पांच्जन्य’’ और ‘‘आर्गनाइजर’’ में छपे संघ प्रमुख के साक्षात्कार के कुछ हिस्सों को पढते हुए कहा, ‘‘यह स्पष्ट है कि वह :भागवत: यह महसूस करते हैं कि आरक्षण की मौजूदा नीति सही नहीं है और वह कुछ अन्य व्यवस्था चाहते हैं ।’’

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button