बाजार

एशिया के शीर्ष 50 व्यापारिक घरानों में 17 भारतीय

वाशिंगटन: एशिया के शीर्ष-50 व्यापारिक घरानों की पहली फोर्ब्स एशिया सूची में 17 घराने भारत के हैं। इस संख्या के साथ भारत सूची में एशिया में सबसे आगे है। 21.5 अरब डॉलर संपत्ति के साथ अंबानी परिवार देश में सबसे आगे और सूची में तीसरा स्थान पर है।

सूची में प्रेमजी परिवार 17 अरब डॉलर के साथ सातवें पर, हिंदुजा परिवार 15 अरब डॉलर के साथ नौवें पर, मिस्त्री परिवार 14.9 अरब डॉलर के साथ 10वें स्थान पर और गोदरेज परिवार 11.4 अरब डॉलर के साथ 15वें स्थान पर हैं।

इन 17 परिवारों में हालांकि कुछ परिवार अब भारतीय नागरिक नहीं हैं।

अंबानी परिवार की संपत्ति में मुकेश अंबानी और अनिल अंबानी की संपत्ति शामिल है, जो अलग-अलग कारोबार का संचालन करते हैं।

फोर्ब्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि मुकेश के पुत्र आकाश और पुत्री ईशा रिलायंस जियो इंफोकॉम में काम करते हैं और बोर्ड सदस्य हैं। अनिल के पुत्र जय अनमोल रिलायंस कैपिटल में काम करते हैं।

5.5 अरब डॉलर संपत्ति के साथ बर्मन परिवार को 30वें स्थान पर रखा गया है। उन्हें पत्रिका के आवरण पृष्ठ पर भी जगह दी गई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, 63 वर्षीय आनंद बर्मन पांचवीं पीढ़ी के कारोबारी हैं और पारिवारिक कंपनी डाबर के गैर-कार्यकारी अध्यक्ष हैं। डाबर का शुद्ध लाभ 1998 के बाद से 24 गुना बढ़ा है और कंपनी की बाजार पूंजी 40 गुना बढ़ी है।

कंपनी में बर्मन परिवार की 68 फीसदी हिस्सेदारी है।

सूची में उन परिवारों को शामिल किया गया है, जिनके पास कम से कम 2.9 अरब डॉलर संपत्ति है।

संपत्ति का मूल्यांकण 25 सितंबर के शेयर मूल्यों और मुद्रा विनिमय दर के आधार पर किया गया है।

सूची में करीब आधे परिवार चीनी मूल के हैं, लेकिन उनमें से एक भी चीन के नागरिक नहीं हैं।

दक्षिण कोरिया में सैमसंग समूह के मालिक ली परिवार को 26.6 अरब डॉलर संपत्ति के साथ सूची में पहले स्थान पर रखा गया है।

दूसरे स्थान पर भी एक अन्य ली परिवार है, जो हांगकांग की कंपनी हेंडरसन लैंड डेवलपमेंट के मालिक हैं। उनके पास 24.1 अरब डॉलर संपत्ति है।

फोर्ब्स की रिपोर्ट में कहा गया है, “परिवार एशिया के कई सबसे बड़ी कंपनियों और प्रमुख ब्रांडों के मूल में है। सैमसंग समूह का ली परिवार इसका सबसे अच्छा उदाहरण है। कंपनी की 2014 की आय दक्षिण कोरिया के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 22 फीसदी के बराबर है।”

फोर्ब्स के शीर्ष 50 एशियाई परिवार में से अधिकांश संयुक्त रूप से कारोबार संभाल रहे हैं, लेकिन कुछ परिवार विभक्त भी हो गए हैं, जैसे अंबानी परिवार। रिपोर्ट में हालांकि दोनों तरह के परिवारों को शामिल किया गया है।

सूची में आने वाले 17 भारतीय परिवार इस प्रकार हैं।

1. अंबानी परिवार – तीसरा (21.5 अरब डॉलर)

2. प्रेमजी परिवार – 7वां (17 अरब डॉलर)

3. हिंदुजा परिवार – 9वां (15 अरब डॉलर)

4. मिस्त्री परिवार – 10वां (14.9 अरब डॉलर)

5. गोदरेज परिवार – 15वां (11.4 अरब डॉलर)

6. मित्तल परिवार – 19वां (10.1 अरब डॉलर)

7. बिड़ला परिवार – 22वां (7.8 अरब डॉलर)

8. बजाज परिवार – 29वां (5.6 अरब डॉलर)

9. बर्मन परिवार – 30वां (5.5 अरब डॉलर)

10. लोहिया परिवार – 31वां (5.4 अरब डॉलर)

11. पटेल परिवार – 33वां (4.8 अरब डॉलर)

12. लाल परिवार – 40वां (4 अरब डॉलर)

13. बांगुड़ परिवार – 42वां (3.8 अरब डॉलर)

14. जिंदल परिवार – 43वां (3.8 अरब डॉलर)

15. मुंजाल परिवार – 46वां (3.2 अरब डॉलर)

16. हीरानंदानी परिवार – 47वां (3.1 अरब डॉलर)

17. हमीद परिवार – 50वां (2.9 अरब डॉलर)

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button