राज्य

बुलंदशहर जिला पंचायत सभागार में समीक्षा बैठक

त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन के प्रथम चरण को शान्तिपूर्ण एवं निष्पक्ष सम्पन्न कराने हेतु राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त पे्रक्षक राधेश्याम मिश्रा की अध्यक्षता में जिला पंचायत सभागार में समीक्षा बैठक ली गई। जिसमें कानून व्यवस्था के बारे में उन्होने विस्तृत जायजा लिया।

पे्रक्षक राधेश्याम मिश्रा ने जनपद में आर्दश आचार संहिता का कड़ाई से अनुपालन करने को निर्देश देते हुए। 

अवैध शराब की बिक्री पर रोक लगाने तथा मतदान के दिन किसी भी प्रकार का मादक पदार्थ का पूर्णतः प्रतिबन्ध लगाने को कहा। प्रत्याशियो द्वारा लगे होर्डिगो, पोस्टर, बैनरों व बालपेन्टिगो को तत्काल प्रभाव से हटाने पर बल दिया। प्रत्याशियो के कार्यो पर विशेष ध्यान दे कि वे अवैध तरीके से मिठाई व शराब का मतदाता को लुभाने के लिए वितरण तो नही कर रहै है । 

उन्होने गामीण क्षेत्र में अराजक, अवांछनीय व अपराधिक तत्वो को धारा-107/116 के अन्र्तगत कार्यवाही करने ,गैगेस्टर ,गुण्डा एक्ट युद्ध स्तर पर कार्यवाही करने तथा जिला बदर लोगो को जनपद में प्रवेश न करने दें। संवेदनशील व अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्रो पर जाकर वहां के नागरिको को आचार संहिता के बारे में पाठ पढाये। मतदान केन्द्र से 200 मी0 की परिधि में अपना बस्ता न लगाये व मतदान केन्द्र के आस-पास यदि ईट,पत्थर एकत्रित हेै तो उन्हें हटवा दे। मतदाता अपने मत का प्रयोग करके सीधे अपने घर जाये। मतदान केन्द्र पर भीड एक़ित्रत न होने दे ऐसी व्यवस्था प्रारम्भ से सुनिश्चित करे । 

प्रेक्षक राधेश्याम मिश्रा ने जनपद के ग्राम-बरारी का दौरा करने के दौरान बिजली के खम्बो पर होर्डिग व पोस्टर,तथा बैनर लगे मिले। इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों से तत्काल प्रभाव से हटवाने के निर्देश दिये।

जिला मजिस्ट्ेट/जिला निर्वाचन अधिकारी बी0चन्द्रकला ने थाना बी0बी0नगर के ग्राम-बाहंपुर में जेल से छूट कर आये तीन कुख्यात अपराधियो जिन्होने दबगी दिखा कर अपनी पत्नी को निविरोध बी0डी0सी0 का सदस्य निर्वाचित करा लिया।

जिस पर जिला मजिस्ट्ेट ने नाराजगी व्यक्त करते हुए वहां के थानाध्यक्ष/एस0एच0ओ0 से पूछा कि ऐसे दबगो के विरूद्ध कार्यवाही क्यो नही की गई। उन्होने तत्काल ऐसे अपराधियो के विरूद्ध कार्यवाही करने के कडे निर्देश दिये। यदि अन्य गावों में इस प्रकार की पुनरावृत्ति होती है तो वहां के थानाध्यक्ष के विरूद्ध निलम्बन की कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।

अराजक व अवांछनीय तत्वो को मतदान के दिन जेल अवश्य भेजेे। पीले और लाल कार्डो के बारे में आम नागरिको के बीच में जाकर सही जानकारी दे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनन्त देव ने उपपुलिस अधीक्षक, थानाध्यक्षो को निर्देश दिये कि मतदान के दिन सीमा सील कर दें।

किसी भी भारी वाहन को अन्दर प्रवेश न करने दे । अपराधी प्रवृत्ति के लोगो के विरूद्ध गुण्ड एक्ट व गैगेस्टर तथा जिला बदर की कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। उन्होने पुलिस बल से अपेक्षा की कि किसी का अतिथ्य स्वीकार न करे,उनको भोजन सम्बन्धित थाने से समय से प्राप्त होगा । संवेदनशील/अतिसंवेदनशील प्लस बूथों के गांवो में असामाजिक तत्वों के विरूद्ध की गई घारा-107/116 0प्र0स0 के अन्र्तगत कार्यवाही की जाये। 

Rohit Sharma

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button