राज्य

लालू पर हमले के साथ गोमांस विवाद में उतरे मोदी

मुंगेर: गौमांस विवाद में कदम रखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज राजद प्रमुख लालू प्रसाद को उनकी हिन्दू भी गोमांस खाते हैं संबंधी टिप्पणी के लिए निशाने पर लिया और कहा कि उन्होंने ऐसा कहकर बिहार के लोगों और खासकर उन्हें सत्ता में लाने वाले अपने यदुवंशी समुदाय का अपमान किया है।

दादरी में कथित रूप से गोमांस खाने की अफवाहों को लेकर एक व्यक्ति की हत्या की घटना को लेकर व्यापक आक्रोश के बावजूद अब तक चुप्पी साधे रहे प्रधानमंत्री ने यहां एक चुनाव रैली में लालू पर हमला करते हुए कहा कि शैतान मानव शरीर में घुस गया है।

उन्होंने कहा, उन्होंने क्या क्या खाया है? इससे : टिप्पणियों से : यदुवंशियों का अपमान हुआ है…लालूजी इन यदुवंशियों ने सत्ता में आने में आपकी मदद की। सभी यादव क्या खाते हैं…क्या यह यादवौं और बिहार का अपमान नहीं है?

मोदी, नीतीश कुमार पर डीएनए संबंधी निशाना साधने के लिए महागठबंधन के निशाने पर हैं, जिसका कहना है कि ऐसा कहकर मोदी ने बिहार के लोगों का अपमान किया है।

मोदी अब पलटवार करते हुए लालू की गोमांस संबंधी टिप्पणी को न केवल गौपालक यादव समुदाय बल्कि पूरे बिहार का अपमान बताते हुए पेश कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि लालू यह कहकर अपनी टिप्पणी से पीछा नहीं छुड़ा सकते कि उनकी जुबान पर शैतान आ गया जिसने उन्हें ऐसा कहने को मजबूर किया और मैं जानना चाहता हूं कि शैतान को उनका :लालू: पता कैसे मिला…वह शैतान को उसी तरह पहचानते हैं जैसे लोग अपने रिश्तेदारों को। 

प्रधानमंत्री ने लालू के शैतान के प्रभाव में आकर टिप्पणी करने संबंधी बयान का उपहास करते हुए कहा, अब तक हम मनुष्यों :राजनीतिक विरोधियों: से लड़ते आ रहे थे। अब शैतान एक मानव शरीर में घुस गया है जो हमारे पीछे पड़ा है।

लालू की टिप्पणी की तरफ इशारा करते हुए मोदी ने भीड़ से पूछा, क्या बिहार में इस तरह के लोगों की जगह है?

यह महसूस करते हुए कि मुस्लिम-यादव का संयोजन भाजपा नेतृत्व वाले राजग के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है, राजग यादव वोटों में बिखराव की उम्मीद कर रहा है और समुदाय पर राजद प्रमुख की पकड़ को देखते हुए रामकृपाल यादव एवं नंदकिशोर यादव जैसे यादव नेताओं को खास तौर पर आगे कर रहा है।

मोदी ने साथ ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और लालू पर हमला करने के लिए आज जयप्रकाश नारायण की पुण्यतिथि के मौके का भी इस्तेमाल किया।

उन्होंने कहा कि जिन्होंने कभी समाजवादी नेता :जयप्रकाश नारायण: का जय गान गाया था उन्हांंेने अब उस कांग्रेस से हाथ मिला लिया जिसने आपातकाल के दौरान जेपी को जेल मंें बंद कराया था और यह धर्मनिरपेक्ष महागठबंधन महास्वार्थ गठबंधन है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस अपनी खुद की प्रासंगिकता खोने के बाद जदयू और राजद से हाथ मिलाकर बिहार की राजनीति में पिछले दरवाजे से घुसना चाहती है।

उन्होंने लालू और नीतीश दोनों पर जेपी को लेकर उनकी प्रतिबद्धता पर सवाल किया जिन्होंने ताउम्र कांग्रेस के खिलाफ संघर्ष किया था।

मोदी ने कहा, कांग्रेस ने आपातकाल लगाया और जेपी को जेल में डाला जहां वह बीमार पड़ गए और इस कारण उनका निधन हो गया…..उसी कांग्रेस के साथ खड़े होकर वे अब भाजपा को गाली दे रहे हैं। 

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button