देश/विदेश

राहुल भारतीय राजनीति के बिगड़ैल बच्चे: भाजपा 

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के दौरे को छिपाने के कारणों को बताने की मांग करते हुए सोमवार को उन्हें ‘भारतीय राजनीति का बिगड़ैल बच्चा’ करार दिया।

भाजपा के प्रवक्ता एम.जे.अकबर ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “जिस तरीके से राहुल गांधी अपनी यात्रा पर लुका-छिपी खेल रहे हैं, उससे उनके कार्यालय के उस दावे पर विश्वास करना मुश्किल है कि वे एस्पेन में एक कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “कथित अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन की तस्वीर पोस्ट करने के बदले उन्हें इस बात को बताना चाहिए कि वे वहां क्या कर रहे हैं। उनके स्वभाव ने उन्हें भारतीय राजनीति का बिगडै़ल बच्चा बना दिया।”

कांग्रेस द्वारा मोदी को एक जिम्मेदार बेटा करार नहीं देने व प्रधानमंत्री के रूप में अपने शपथ ग्रहण समारोह में अपनी मां को नहीं बुलाने को लेकर हमले पर भाजपा ने तीखी प्रतिक्रिया जताई। 

अकबर ने कहा, “विपक्षी पार्टी झूठ, द्वेष व हताशा का पिटारा बन गई है। मोदी अपने माताजी के प्रति समर्पित हैं, जो अभी भी कुटिया में रहती हैं। चुनाव जीतने के बाद उन्होंने उनका पैर छूकर आशीर्वाद लिया। कांग्रेस हमले को व्यक्तिगत रूप दे रही है।”

इससे पहले दिन में कांग्रेस ने प्रधानमंत्री पर गलत आंकड़ों व तथ्यों द्वारा देश को भ्रमित करने का आरोप लगाया और कहा कि वह लोगों को समझाने में लगे हैं कि आज तक देश ने जो कुछ भी हासिल किया, वह उनके प्रयासों के कारण हुआ।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि प्रधानमंत्री को बोलने से पहले अपने तथ्यों व आंकड़ों की अच्छी तरह जांच कर लेनी चाहिए, क्योंकि अधिकांश बार वह गलत दावा कर जाते हैं।

शर्मा ने कहा, “हम उन्हें यह बताना चाहेंगे कि भारत का उद्भव तब नहीं हुआ था, जब मई 2014 में उन्होंने सत्ता संभाली थी।” उन्होंने कहा कि कई नेता और व्यक्ति हुए, जिन्होंने देश को वर्तमान ऊंचाई तक पहुंचाया।

उन्होंने कहा कि केंद्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार बनने से पहले देश का बेहद आधुनिकीकरण हुआ। डिजिटीकरण अच्छी बात है, लेकिन यह उनका नजरिया है।

कांग्रेस नेता ने कहा, “मोदी गलत दावे कर देश के लोगों को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्हें इस तरह के दावे बंद करने चाहिए।”

शर्मा ने कहा कि मोदी के सत्ता संभालने से पहले जी-4 समूह में भारत को काफी समर्थन मिला।

कांग्रेस नेता ने कहा, “वीटो पॉवर के साथ संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का सदस्य बनने की भारत की मांग को ब्रिटेन व फ्रांस का समर्थन मिला। रूस भी इसका समर्थक रहा है।” तीनों देशों का समर्थन वर्तमान सरकार के गठन से पहले रहा। इसलिए इस मुद्दे पर अपनी पीठ थपथपाने का क्या फायदा।

शर्मा ने विदेशों में मोदी के लिए आयोजित सार्वजनिक समारोहों की जांच की भी मांग की।

उन्होंने कहा, “कांग्रेस इन मामलों में सही तरीके से जांच की मांग करती है।” उन्होंने कहा कि मोदी सार्वजनिक समारोहों का आयोजन कर अपने आधिकारिक दौरे का दुरुपयोग कर रहे हैं।

वहीं, राहुल गांधी ने अपने एक बार फिर ‘अज्ञातवास’ पर चले जाने की अटकलों पर अपने ट्विटर अकाउंट ‘ऑफिस ऑफ आरजी’ पर एक पोस्ट लिख विराम लगा दिया। 

राहुल ने ट्वीट कर बताया कि वह अमेरिका के एस्पेन में एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में हिस्सा ले रहे हैं।

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने अपने ट्विटर पर अकाउंट पर लिखा, “एस्पेन में सम्मेलन में वैश्विक अर्थव्यवस्था और तकनीक की नकारात्मक शक्ति पर बेहद दिलचस्प चर्चा।”

उल्लेखनीय है कि लोकसभा चुनाव के नतीजे सामने आने के बाद राहुल काफी समय तक सक्रिय राजनीति से ‘गायब’ रहे थे। हाल में उनके दोबारा ‘गायब’ होने की अटकलों ने जोर पकड़ा, हालांकि कांग्रेस ने उनके अज्ञातवास पर जाने की खबरों का खंडन किया था। 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)ने कांग्रेस उपाध्यक्ष के अमेरिका दौरे को ‘मजबूरी की छुट्टी’ करार दिया है।

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button