राज्य

बुलंदशहर जिला पूर्ती अधिकारी पर जांच का कहर 

बुलंदशहर: उत्तर प्रदेश के जिला बुलंदशहर के जिला पूर्ती अधिकारी द्वारका प्रसाद त्रिपाठी पर लगे भ्रष्ट्राचार और मानसिक उत्पीड़न के आरोपो की जांच तीन टीम करेगी। 

हर एक टीम में तीन अधिकारी होंगे यानी की जिला स्तरीय 9 अधिकारी डी.एस.ओ पर लगे आरोपो की जांच करेंगे।

यह आरोप अनुसूचित जाति संगठन ने प्रदर्शन कर लगाये थे। जिला अधिकारी को इस बावत ज्ञापन दिया गया था। 

पहला आरोप महिला सप्लाई इंस्पेक्टर का उत्पीड़न, दूसरा आरोप राशन कार्डों के डिजिटलाइजेशन और तीसरा आरोप गलत ढंग से राशन दुकानों के संबद्ध करने का आरोप डीएसओ पर है। 

तीनों टीमें 15 दिन में जांच रिपोर्ट डीएम को सौंपेंगी। 

महिला उत्पीड़न की जांच तीन महिला अफसर करेंगी। इसमें जिला अर्थ एवं सांख्यिकी अधिकारी अनुला वर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी शिवांगी कुलकर्णी और रुबी यादव को शामिल किया गया । 

दूसरा आरोप राशन कार्डों के डिजिटलाइजेशन में देरी और गड़बड़ी का है। इसकी जांच सिटी मजिस्ट्रेट डीपी सिंह, ट्रेजरी अफसर राहुल गौतम और मयंक गोयल करेंगे। 

इसके अलावा तीसरा आरोप राशन की दुकानों की तलाशी से एसडीएम को हटाकर बीडीओ को सौंप गलत ढंग से दुकानों का अटेचमेंट करने का है। इसकी जांच एसडीएम सदर विवेक श्रीवास्तव, पीडीडीआरडीए मुरारी लाल और ट्रेजरी अफसर राहुल गौतम को दी गई है। 

Rohit Sharma

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button