देश/विदेश

अमेरिका ने मोदी से सहिष्णुता के आदर्शों को हकीकत में बदलने को कहा

वॉशिंगटन: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दादरी हत्याकांड की पृष्ठभूमि में सांप्रदायिक सद्भाव का आह्वान किए जाने के बीच अमेरिका के धार्मिक स्वतंत्रता संबंधी मामलों के एक शीर्ष राजनयिक ने कहा है कि अमेरिका मोदी सरकार को देशभर में सहिष्णुता और विनम्रता के आदर्शो को अमली जामा पहनाने के लिए प्रोत्साहित करेगी।

कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री ने दादरी में गौमांस का सेवन करने की अफवाह के चलते एक व्यक्ति को कथित तौर पर पीट पीट कर मार डालने की घटना की पृष्ठभूमि में सांप्रदायिक सौहार्द का आह्वान किया था।

यूएस एम्बैस्डर – एट – लाफार्ज फॉर इंटरनेशनल रिलीजियस फ्रीडम डेविड सैपरस्टीन ने पीटीआई को बताया गौमांस को लेकर हुई घटनाओं के संबंध में विवाद होने के बाद प्रधानमंत्री ने विभिन्न समुदायों के बीच विनम्रता एवं सहिष्णुता का आह्वान किया था। हम इन आदर्शों को देश भर में हकीकत में तब्दील करने के लिए प्रधानमंत्री को और सरकार को प्रोत्साहित करेंगे।

सैपरस्टीन से वर्ष 2014 के लिए अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता पर विदेश मंत्रालय द्वारा कांग्रेस की सालना रिपोर्ट जारी किए जाने के बाद संवाददाताओं ने भारत में धार्मिक स्वतंत्रता के बारे में सवाल पूछे थे।

रिपोर्ट मंे भारत वाले प्रखंड में 26 मई 2014 तक संप्रग सरकार के शासन का जिक्र है। इसमें कहा गया है कि वर्ष 2014 में भारत में धर्म को लेकर हत्या, गिरफ्तारी, दंगे और जबरन धर्मांतरण जैसी घटनाएं हुईं और कुछ मामलों मंे पुलिस सांप्रदायिक हिंसा से कारगर तरीके से निपटने में नाकाम रही। 

ललित के झा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button