सिनेमा

मुसलमान होने के कारण निशाना बनाया गया: नसीरुद्दीन शाह

नई दिल्ली: मुंबई में पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी के पुस्तक विमोचन समारोह में शामिल होने पर उठे विवाद पर नसीरुद्दीन शाह ने कहा कि मुसलमान होने के कारण उन पर निशाना साधा गया।

शाह ने समाचार चैनल इंडिया टुडे को दिए एक साक्षात्कार में कहा, “मेरा नाम नसीरुद्दीन शाह है और मुझे लगता है कि इसीलिए मुझ पर निशाना साधा जा रहा है। मुझे यह कहते हुए दुख हो रहा है, लेकिन अब तक मैं अपनी इस पहचान से अवगत नहीं था।”

शाह ने कहा कि सोमवार को हुए समारोह में पाकिस्तान के बारे में उनके कथन को मीडिया में गलत समझा गया और गलत तरह से पेश किया गया।

शाह ने कहा, “मैं हैरान हूं कि मैंने जो भी कहा उसे भारतीय विरोधी के रूप में देखा गया लेकिन मैंने जो भी कहा उसमें ऐसा कुछ भी नहीं था।”

शाह ने कहा, “मुझे समझ नहीं आता कि अगर पाकिस्तान की प्रशंसा में कुछ भी कहा जाता है तो उसे भारतीय विरोधी के रूप में क्यों लिया जाता है।”

खुद को एक स्वाभिमानी हिंदुस्तानी बताते हुए शाह ने कहा कि वे किसी को भी उनकी देशभक्ति पर उंगली उठाने नहीं देंगे।

शाह ने कहा कि समारोह में प्रख्यात अधिवक्ता ए जी नूरानी और प्रख्यात पत्रकार दिलीप पडगांवकर ने जो भी कहा उस पर कोई सवाल नहीं खड़ा किया गया।

देश में बढ़ती असहिष्णुता के विरोध में प्रख्यात लेखकों द्वारा साहित्य अकादमी पुरस्कार लौटाने के मुद्दे पर शाह ने कहा कि विरोध जताने वाले लेखकों ने भारत में जो भी हो रहा है उस पर मजबूती से लिखा है।

किताब विमोचन समारोह में शाह ने पाकिस्तानी कलाकारों को भारत में प्रदर्शन से रोकने को दुखद बताया था। 

शाह ने कहा था, “नफरत फैलाने वालों का आज भारत में बोलबाला है।”

शिवसेना के इस कथन पर कि आतंकवाद, क्रिकेट और संगीत साथ में नहीं रह सकते, शाह ने कहा, “आतंकवाद को पोसने वाले और सीमा पार शांति का संदेश लाने वाले एक नहीं हैं। आपको फर्क करना होगा।”

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button