देश/विदेश

अमेरिका ने आतंकवाद से लड़ने के लिए पाकिस्तान को दिए 26 करोड़ डालर

इस्लामाबाद: अमेरिका ने इस वित्तीय वर्ष में आतंकवाद से लड़ने के लिए पाकिस्तान को 26 करोड़ 50 लाख डालर की मदद दी है। यह मदद विदेशी सैन्य वित्तपोषण (एफएमएफ) के तहत दी गई है। अमेरिकी विदेश विभाग की रपट में यह जानकारी दी गई है।

यह धन पाकिस्तान को अपने कबायली इलाके में आतंकवादियों से मोर्चा लेने में मदद देने के साथ-साथ सामुद्रिक सुरक्षा की कार्रवाईयों में हिस्सा लेने में भी मदद देगा।

‘डान’ ने अमेरिकी रपट के हवाले से बताया कि इसमें कहा गया है, “पाकिस्तान आतंकवाद विरोधी कार्रवाईयों में अमेरिका से सहयोग कर रहा है। 2001 से अब तक 600 अल कायदा सदस्यों और उसके समर्थकों को पकड़ चुका है। अमेरिका की पाकिस्तान के साथ घनिष्ठ रक्षा भागीदारी है।”

रपट उस वक्त आई है जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अमेरिका की यात्रा पर जाने वाले हैं। शरीफ की अमेरिका यात्रा 21 अक्टूबर से शुरू हो रही है।

रपट में बताया गया है कि मिलिट्री एजुकेशन एंड ट्रेनिंग असिस्टेंस (आईएमईटी) के तहत भी अमेरिका ने पाकिस्तान को 50 लाख डालर दिए हैं।

रपट के अनुसार अमेरिका, पाकिस्तान का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है। 

मौजूदा वित्तीय वर्ष में विदेश में काम कर रहे पाकिस्तानियों ने 18.72 अरब डालर पाकिस्तान भेजे। इसमें से 14.4 फीसदी हिस्सा अमेरिका में रह रहे पाकिस्तानियों ने भेजा है।

रपट में कहा गया है कि पाकिस्तान ने हाल के दिनों में अपनी अर्थव्यवस्था का उदारीकरण किया है। इसमें बताया गया है कि पाकिस्तान में अमेरिकी निवेश कंज्यूमर गुड्स, निर्माण, रसायन, ऊर्जा, परिवहन और संचार के क्षेत्रों में अधिक है।

जनवरी 2015 में अमेरिका ने पाकिस्तान को 25 करोड़ डालर की मदद देने का वादा किया था। इनसे संघीय कबायली इलाकों में आंतकवाद विरोधी कार्रवाई की वजह से विस्थापित हुए कबायली लोगों के पुनस्र्थापन का काम किया जाना था।

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button