देश/विदेश

तुर्की में दोहरे विस्फोट में 86 मरे 

अंकारा: तुर्की की राजधानी अंकारा में एक शांति रैली से पहले शनिवार को हुए दो विस्फोटों में कम से कम 86 लोगों की मौत हो गई और 126 घायल हुए हैं।

स्वास्थ्य मंत्री मेहमत मुजिओंग्लू ने कहा कि 62 लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि 24 अन्य ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। 18 लोगों का इलाज चल रहा है, जबकि 28 अन्य गहन चिकित्सा इकाई में हैं।

हुर्रियत डेली न्यूज की एक रपट के मुताबिक, विस्फोट में नौ पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। 

ये विस्फोट एक रेलवे स्टेशन पर हुए, जहां पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (एचडीपी) के समर्थक एक रैली कर रहे थे। यह रैली सरकार व प्रतिबंधित कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी (पीकेके) के बीच दक्षिणपूर्व तुर्की में हुई झड़प के विरोध में आयोजित थी। 

समाचार एजेंसी ‘दोगान’ की रपट के मुताबिक, विस्फोट कई मिनटों के अंतराल पर हुए। पहला विस्फोट स्थानीय समयानुसार सुबह 10 बजे के आसपास हुआ।

सोशल मीडिया पर जारी एक वीडियो में दिख रहा है कि जिस वक्त पहला विस्फोट हुआ, उस वक्त लोग नाच रहे थे और बैनर लहरा रहे थे।

इस रैली का आयोजन कंफेडरेशन ऑफ पब्लिक सेक्टर ट्रेड्स युनियंस, कंफेडरेशन ऑफ प्रोग्रेसिव ट्रेड युनियंस ऑफ तुर्की, तुर्की मेडिकल एसोसिएशन तथा युनियन ऑफ चैंबर्स ऑफ तुर्की इंजीनियर्स एंड आर्किटेक्ट्स द्वारा किया गया था।

पुलिस ने कहा कि तीसरे विस्फोट की आशंका के मद्देनजर, एहतियातन इलाके को खाली करा लिया गया है।

रपट में कई प्रत्यक्षदर्शियों के हवाले से कहा गया है कि संभव है कि विस्फोट आत्मघाती हमलवारों द्वारा किए गए हों।

विस्फोट से रेलवे स्टेशन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। घटनास्थल पर एंबुलेस पहुंच गए हैं। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि पहला विस्फोट रेलवे स्टेशन के सामने हुआ और दूसरा स्टेशन पर हुआ।

प्रधानमंत्री अहमत दावूतोगलू के कार्यालय ने कहा कि विस्फोट के मद्देनजर, प्रधानमंत्री ने उपप्रधानमंत्री याल्सीन अकडोगन, स्वास्थ्य मंत्री मुजिओंग्लू, गृह मंत्री सेलामी अल्तीनोक, पुलिस व खुफिया प्रमुखों व अंकारा के महापौर मेलिह गोककेक के साथ एक बैठक की।

राष्ट्रपति रेसेप तईप एडरेगन ने हमले की निंदा की और तुर्की के इतिहास में इसे अकेला सबसे बड़ा आतंकवादी हमला करार दिया।

हमले के उद्देश्य का अभी तक पता नहीं चल पाया है।

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button