देश/विदेश

लालू ‘रिमोट’ से बिहार में सरकार चलाना चाहते हैं: मोदी

सासाराम/औरंगाबाद: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि अब बिहार को ‘जंगलराज’ नहीं ‘विकासराज’ की जरूरत है। समस्याओं के इलाज की एक ही दवा है और वह विकास है। उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद ‘रिमोट से सरकार चलाना चाहते हैं, इसीलिए खुद को ‘बिगबॉस’ कहते हैं।

सासाराम और औरंगाबाद में अलग-अलग चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने एक बार फिर अपने विरोधियों पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने महागठबंधन को ‘महास्वार्थ बंधन’ बताते हुए कहा कि सत्ता के लिए कांग्रेस, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और जनता दल (युनाइटेड) एक हो गए हैं, जबकि पूर्व में ये सभी आपस में लड़ते रहे हैं। 

प्रधानमंत्री ने ऐलान किया कि यदि अबकी बार बिहार में भाजपा की सरकार बनी तो 24 घंटे बिजली देंगे। उन्होंने कहा कि बिहार की तीन पीढ़ियां बर्बाद हुई हैं, अब इसकी जवानी बर्बाद नहीं होने दें।

मोदी ने युवा मतदाताओं में उत्साह भरते हुए कहा, “अबकी बार बिहार का भाग्य बदलने की जिम्मेदारी युवाओं ने ले ली है। यह चुनाव तय करेगा कि बिहार का भविष्य क्या है। यह चुनाव तय करेगा कि 21वीं सदी में बिहार दुनिया में कहां है।”

मोदी ने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद पर निशाना साधते हुए कहा, “आखिर लालू ने ऐसा कौन-सा पाप किया है कि चुनाव तक नहीं लड़ सकते? जरा लालूजी से पूछिए कि इस बार चुनाव से बाहर क्यों हैं? उन्होंने ऐसा क्या कर दिया है कि हिंदुस्तान की न्यायप्रणाली और देश के न्यायतंत्र ने उन्हें बिहार की राजनीति से बाहर कर दिया? ऐसा उन्होंने क्या किया था? जरा बिहार की जनता को आप (लालू) बताओ तो सही।” 

मोदी ने कहा, “लालू रिमोट कंट्रोल से बिहार को चलाना चाहते हैं। वह कहते हैं कि मैं बिग बॉस हूं, जो मैं कहूंगा वही होगा।”

मोदी ने कहा, “यहां की सरकार को न यहां के पानी की चिंता है, न जवानी (युवा) की चिंता है। उनको सिर्फ एक ही उद्योग की चिंता है। अपहरण, फिरौती, कब्जा, छिनैती। यही है जंगलराज का उद्योग।”

उन्होंने कहा, “कल ही देखिए पटना में एक पुलिस अधिकारी को गोली मार दी गई। जिस बिहार में पुलिस अधिकारी की सुरक्षा नहीं है, वहां आम आदमी को क्या सुरक्षा मिलेगी। यही जंगलराज के संकेत हैं।”

प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और लालू को एक साथ घेरते हुए कहा, “सरकार का हिसाब देने के बजाए ये क्या कर रहे हैं। हर दिन सुबह डिक्शनरी (शब्दकोष) खोल कर नई गाली ढूंढ़ते हैं और दिनभर मोदी को गाली देते हैं।” 

उन्होंने लोगों से महागठबंधन के नेताओं से 60 साल का हिसाब मांगने की अपील करते हुए कहा, “आप लोग पूछिए। इतने दिनों में कितने कारखाने उन्होंने बंद करा दिए। इतने सालों में कितने नौजवानों का पलायन हुआ। लेकिन ये अपने काम का हिसाब नहीं देते। पहले ये जंगलराज वाले थोड़ा शर्माते थे। इन दिनों तो स्थिति ऐसी है कि ये जंगलराज पर भाषण दे रहे हैं। इनकी हिम्मत तो देखिए।” 

बिजली की समस्या पर मोदी ने कहा कि अगर बिहार में बिजली होती तो कारखाने लगते, बच्चों की पढ़ाई अच्छी होती, लेकिन इन्होंने बिजली देने का वादा करके भी पूरा नहीं किया। उनका अहंकार इतना है कि वे इसका जवाब भी नहीं देते। 

उन्होंने कहा कि बिहार प्रति व्यक्ति आय में देश में 29वें स्थान पर है, जबकि शिक्षा के मामले में बिहार 29वें और पेयजल मुहैया कराने में 26वें स्थान पर है। 

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button