देश/विदेश

पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र को डोजियर सौंपकर भारत पर आतंकवाद का आरोप लगाया

संयुक्त राष्ट्र: पाकिस्तान ने कहा है कि उसने संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून को डोजियर सौंपे हैं जिनमें देश में आतंकवाद में भारत की कथित संलिप्तता और संघ प्रशासित कबाइली क्षेत्र :फाटा: में तहरीक ए तालिबान से इसकी सुरक्षा एजेंसियों के कथित संपर्कों के सबूत हैं ।

संयुक्त राष्ट्र महासभा में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के संबोधन के बाद कल देर रात जवाब देने के अधिकार का इस्तेमाल करते हुए एक पाकिस्तानी प्रतिनिधि ने कहा कि पाकिस्तान ने कल महासचिव को डोजियर सौंपे हैं जिनमें पाकिस्तान में आतंकवाद और अस्थिरता में भारत की कथित संलिप्तता के सबूत हैं ।

प्रतिनिधि ने जवाब देने के अधिकार के तहत महासभा के सदन से कहा, डोजियरों में भारतीय हस्तक्षेप और बलूचिस्तान तथा कराची में आतंकवाद को समर्थन तथा खासकर फाटा में तहरीक ए तालिबान से भारत की खुफिया एजेंसियों के सपंर्क का ब्यौरा है । 

प्रतिनिधि ने भारत पर आरोप लगाया कि वह न सिर्फ द्विपक्षीय वार्ता को बाधित करने के लिए, बल्कि दोनों देशों के बीच समूचे माहौल को खराब करने के लिए आतंकवाद का इस्तेमाल कर रहा है ।

उन्होंने कहा, वार्ता को एक सूत्री एजेंडे तक सीमित करने की भारत की लगातार जिद साबित करती है कि वह वास्तविक वार्ता में न तो रूचि रखता है और न ही इसे लेकर गंभीर है ।

प्रतिनिधि ने आरोप लगाया कि भारत 2007 में हुए समझौता एक्सप्रेस विस्फोट के षड्यंत्रकारियों को न्याय के कठघरे में लाने में विफल रहा है ।

शांति के लिए पाकिस्तान के चार सूत्री फार्मूले को नकारते हुए और समस्या के समाधान के लिए एनएसए स्तर की वार्ता प्रस्तावित करते हुए सुषमा स्वराज ने कहा था कि भारत हर मुद्दे पर बातचीत करने के लिए तैयार है, अगर पड़ोसी देश अपने यहां से पैदा हो रहे आतंकववाद को खत्म करने के एक मुद्दे का समाधान कर दे।

सुषमा ने अपने संबोधन में मुंबई हमलों के षड्यंत्रकारियों का जिक्र किया जो पाकिस्तान में आजाद घूमते हैं और विश्व निकाय से यह सुनिश्चित करने को कहा कि जो देश आतंकवादियों को वित्तीय सहायता, पनाहगाह और हथियार मुहैया कराते हैं, उन्हें भारी कीमत चुकानी पड़े । 

योशिता सिंह

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button