देश/विदेश

दवा की अधिक खुराक लेने के बाद इंद्राणी की हालत गंभीर

मुंबई: अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या करने की आरोपी पूर्व मीडिया दिग्गज इंद्राणी मुखर्जी को दवा की अधिक खुराक लेने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने उनकी हालत गंभीर बताई है।

अटकलें लगाई जा रही हैं कि उन्होंने आत्महत्या की कोशिश की होगी।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने आज देर रात इस घटना की जांच के आदेश दिए। फडणवीस के पास गृह विभाग भी है।

जेजे हॉस्पिटल के डीन टीपी लहाने ने संवाददाताओं को बताया, उन्हें यहां दोपहर दो बजे लाया गया। वह तब से बेहोश हैं।

उन्होंने बताया, वह बेहोश हैं, उनकी हालत गंभीर है।

डीसीपी मोहन दहीकर ने बताया कि शीना :24: हत्याकांड की मुख्य आरोपी इंद्राणी :43: को आर्थर रोड जेल से यहां सरकारी जेजे अस्पताल ले जाकर भर्ती कराया गया। उन्होंने बेचैनी महसूस होने की शिकायत की थी।

डॉ लहाने के अनुसार, इंद्राणी मिर्गी की दवाइयां लेती थीं। हमें आशंका है कि उन्होंने अपनी मिर्गी की दवाई ली और शायद पूरी दवा खा ली।

जेल के अधिकारियों ने बताया कि 11 सितंबर के बाद से वह मिर्गी के दौरे रोकने की दवा ले रही थीं क्योंकि उन्हें दौरे पड़ते थे। उनकी दवाओं की निगरानी करने का कार्य कर रहे जेल अधिकारियों से पूछा गया है कि इंद्राणी को उनकी खुराक से अधिक गोलियां कैसे मिलीं।

एक वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया कि मिर्गी के दौरे रोकने वाली दवा की अधिक खुराक मरीज को कोमा में तक पहुंचा सकती है।

डॉ लहाने ने बताया कि जो कुछ भी जहरीली चीज है, यदि यह शरीर से बाहर आ गई है तो फिर मुझे लगता है कि हमारे सामने अगले 24 घंटों में प्रतिक्रिया स्पष्ट हो जाएगी। इसमें कम से कम 24 घंटे लगेंगे। 

मुख्यमंत्री कार्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई भाषा को बताया कि महानिरीक्षक :जेल: द्वारा की जाने वाली जांच में यह पता लगाने सहित सभी पहलू शामिल होंगे कि इंद्राणी को इतनी गोलियां कैसे मिलीं।

ऐसी अटकलें हैं कि इंद्राणी अवसाद में थी और उसने कुछ गोलियां खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। पिछली शादी से पैदा हुई अपनी बेटी शीना बोरा की अप्रैल 2012 में हुई हत्या में कथित भूमिका को लेकर 25 अगस्त को इंद्राणी को गिरफ्तार किया गया था।

इस मामले में दो अन्य आरोपी श्यामवर राय और इंद्राणी के पूर्व पति संजीव खन्ना हैं। राय उनका कार चालक है।

पूर्व में इस हाई प्रोफाइल मामले की जांच मुंबई पुलिस तत्कालीन पुलिस आयुक्त राकेश मारिया की निगरानी में कर रही थी। बाद में महाराष्ट्र सरकार ने यह मामला सीबीआई के सुपुर्द कर दिया। केंद्रीय जांच एजेंसी ने पिछले माह तीनों आरोपियों के खिलाफ हत्या का एक मामला दर्ज किया।

इंद्राणी को सात सितंबर को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। उनके पति एवं स्टार इंडिया के पूर्व सीईओ पीटर मुखर्जी से भी पुलिस ने मामले में कई बार पूछताछ की थी।

तीनों आरोपियों ने शीना का कथित तौर पर अपहरण किया और एक कार में उसे मार डाला जिसके बाद समीपवर्ती रायगढ़ जिले के जंगल में उसका शव जला कर ठिकाने लगा दिया गया था। 

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button