सिनेमा

तलवार दंपति ने बेचा फिल्म ‘तलवार’ की कहानी का अधिकार

मुंबई: फिल्म ‘रहस्य’ के निर्देशक मनीष गुप्ता का दावा है कि आरुषि हत्याकांड पर बन रही फिल्म ‘तलवार’ के निर्माताओं से तलवार दंपति ने इसकी कहानी के अधिकार के एवज में बड़ी रकम ली है। वर्ष 2008 में नोएडा के जलवायु विहार में किशोरी आरुषि तलवार और उसके घरेलू नौकर हेमराज की हत्या पर आधारित फिल्म ‘रहस्य’ और मेघना गुलजार निर्देशित ‘तलवार’ में क्या अंतर है?

एक संवाददाता सम्मेलन में यह सवाल पूछे जाने पर गुप्ता ने कहा, “तलवार दंपति ने फिल्म के निर्माताओं से बड़ी रकम लेकर उन्हें कहानी के अधिकार बेचे हैं। इतना ही नहीं, इस फिल्म में उनका यह नजरिया भी पेश किया गया है कि वे बेगुनाह हैं और उन्हें फंसाया गया है।”

गुप्ता ने कहा, “फिल्म में उनके परिवार के उपनाम ‘तलवार’ के इस्तेमाल पर भी उन्होंने कोई आपत्ति नहीं की। इसमें कोई शक नहीं कि उनकी इजाजत ली गई थी।”

गुप्ता ने कहा कि उनकी फिल्म ‘रहस्य’ के बारे में डॉ. राजेश और नूपुर तलवार ने बयान दिया था कि यह फिल्म पूरी तरह एक काल्पनिक कहानी पर आधारित है। लेकिन बाद में तलवार दंपति ने उनकी फिल्म पर आपत्ति करते हुए मामला दर्ज करा दिया, जिस कारण उनकी फिल्म ग्यारह महीने अदालती कार्यवाही में अटकी रही। 

गुप्ता ने दावा किया कि आरुषि की ताई वंदना तलवार ने उन्हें इस मामले से संबंधित अपनी स्वलिखित दो पुस्तिकाएं भी दी हैं।

उन्होंने ने कहा, “पुस्तिकाओं में लिखा है कि तलवार दंपति बेकसूर हैं और सीबीआई ने इस मामले में उन्हें फंसाया है। मैंने उनका प्रस्ताव अस्वीकार करते हुए उन्हें बता दिया था कि मैं यह फिल्म मनोरंजन के लिए बना रहा हूं, लोगों के नजरिए को प्रभावित करने के लिए नहीं। वे चाहते थे कि फिल्म में हम उन्हें बेकसूर दिखाएं।”

गुप्ता ने कहा कि इन सब परेशानियों के बावजूद उनकी फिल्म ‘रहस्य’ को काफी सराहा गया और वह बॉक्स ऑफिस पर 100 दिनों तक चली। 

इरफान खान, कोंकणा सेन शर्मा और तब्बू अभिनीत ‘तलवार’ गांधी जयंती (2 अक्टूबर) को पर्दे पर आएगी।

AGENCY

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button