राज्य

पत्रकारों व राजनेताओं के सोचने व देखने में अंतर: सीएम हरीश रावत

देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत का मानना है कि पत्रकार व राजनेताओं के सोचने व चीजों को देखने के दृष्टिकोण में कुछ अंतर होता है।

रावत के अनुसार एक स्वस्थ लोकतंत्र के लिए जरूरी है कि इस अंतर का सम्मान हो। 

रविवार को लम्बे समय बाद उत्तराखंड प्रेस क्लब के फिर से प्रारम्भ होने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए रावत ने कहा कि पत्रकार अपने लिए जीवन बीमा व स्वास्थ्य बीमा योजना का ड्राफ्ट बनाकर ले आएं, सरकार उसे सहर्ष लागू करेगी। 

विगत में दिवंगत हुए वरिष्ठ पत्रकार उमाशंकर थपलियाल व मनोज कंडवाल को याद करते हुए रावत ने कहा कि पत्रकार सामाजिक सुरक्षा का सवाल सर्वोपरि होना चाहिए। यदि पत्रकार सहमत हों तो पत्रकार कल्याण कोष समिति व प्रेस मान्यता समिति में सभी पत्रकार संगठनों के सदस्यों को नामित किया जा सकता है। 

इस अवसर पर क्लब के अध्यक्ष योगेश भट्ट, मेयर देहरादून विनोद चमोली, पूर्व मंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, उत्तर प्रदेश सरकार के सलाहकार विनोद बड़थ्वाल, सूर्यकांत धस्माना, अशोक वर्मा, डीएम रविनाथ रमन, एसएसपी पुष्प· ज्योति, सीएम के मीडिया प्रभारी सुरेन्द्र कुमार, मीडिया समन्वय· राजीव जैन, जनसम्पर्क समन्वयक जसबीर रावत सहित बड़ी संख्या में पत्रकार उपस्थित थे।

Sanjay Shrivastava

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button